नाबालिग से पहले की दोस्ती, फिर किया दुष्कर्म

Top of Form

नागपुर : घर से भागकर आई एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। आरोपी ट्रेनों में चने बेचता है। सफर के दौरान पीड़ित से उसकी मुलाकात हुई थी। बहला-फुसलाकर उसे अपने साथ ले जाकर 4 दिनों तक उसके साथ दुष्कर्म किया है। गुरुवार को नाबालिग को भेजने के इरादे से स्टेशन पर आने के बाद मामले का खुलासा हुआ। रेलवे चाइल्ड लाइन की शिकायत पर जीआरपी द्वारा मेडिकल जांच के लिए नाबालिग को मेयो लाया गया था। देर रात तक जीआरपी द्वारा कानूनी कार्रवाई शुरू थी।

13 वर्षीय स्नेहा (बदला हुआ नाम) अपनी बहन के साथ बिहार में रहती है। कुछ दिन पहले किसी बात को लेकर उसका बहन के साथ झगड़ा हुआ था। ऐसे में वह घर से भागकर आई थी। दिल्ली लाइन से आनेवाली गाड़ी से वह सफर कर रही थी। इस दरम्यान 16 जनवरी को आरोपी सागर (21) व मुकेश (31) गाड़ी में चना बेच रहे थे। उनका ध्यान स्नेहा पर पड़ा। लड़की के साथ में कोई नहीं रहने से उन्होंने उसके साथ दोस्ती की। विश्वास में लेकर तिगांव लेकर गये। वहां अपने कमरे पर लेकर गए। शादी का झांसा देकर वहां नाबालिग से दुष्कर्म किया गया। गुस्सा शांत होने के बाद स्नेहा ने बहन के घर वापस जाने की जिद की, जिसके बाद गुरुवार को नाबालिग को लेकर दोनों स्टेशन पर आये थे। संदिग्ध अवस्था में दिखने पर जीआरपी ने दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की, तो सारा मामला सामने आया। घटना की जानकारी लगते ही जिला महिला बाल विकास अधिकारी, वरदान संस्था के कार्यकारी संचालिका डॉ. देशपांडे आदि जीआरपी थाना पहुंचे। साथ ही रेलवे चाइल्ड के समन्वयक गौरी देशपांडे को घटना की जानकारी मिलते ही वो भी जीआरपी थाने में पहुंची और मामले को संज्ञान में लिया।

Share this post

Leave a Reply

scroll to top