प्रकाश जावड़ेकर को चिट्टी लिख जेएनयू से ‘इस्लामीक आतंकवाद’ पाठ्यक्रम को वापस लेने का आग्रह

prakash-javadekar.jpg

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश) : अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के छात्र संघ ने गुरुवार को मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) मे  ‘इस्लामीक आतंकवाद’  पर प्रस्तावित पाठ्यक्रम  पर  रोक लगाने का आग्रह किया है |

छात्र संघ के अध्यक्ष, मास्कूर अहमद उस्मानी ने मानव संसाधन विकास मंत्री को लिखे पत्र  में कहा कि यह “घृणास्पद और चौंकाने वाला” है  यह देखना कि जेएनयू कैसे “आतंकवाद को  धार्मिक रंग” दे रहा है। उन्होंने कहा, “यह शायद एक विशिष्ट धर्म को बदनाम करने के लिए की गयी साजिश को दर्शाता है।”

कुछ दिनों पहले जेएनयू अकादमिक परिषद ने राष्ट्रीय सुरक्षा अध्ययन केंद्र स्थापित करने के प्रस्ताव को पारित किया है जिसके अंतर्गत ‘इस्लामीक आतंकवाद’ पर एक कोर्स होगा।

इस पाठ्यक्रम का विरोध जेएनयू के कई टीचर्स और स्टूडेंट्स ने भी किया है | धीरे धीरे मामले पर राजनीतीक रोटिय सेके जाने की  भी संभावना है |

Share this post

Leave a Reply

scroll to top